WTC Final / क्या टीम इंडिया ने चुन ली गलत प्लेइंग 11, पिच इसी ओर कर रही है इशारा

नई दिल्ली। भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच आज से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल (WTC Final 2021) का फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। भारतीय टीम ने अपनी प्लेइंग 11 का ऐलान कर दिया है। भारतीय टीम ने रवींद्र जडेजा पर भरोसा जताते हुए उन्हें खिलाने का निर्णय लिया। इस मैच में रविचंद्रन अश्विन भी खेलेंगे जबकि इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह तेज गेंदबाज होंगे। हालांकि साउथैप्टन के मौसम और पिच को देखते हुए भारतीय टीम के फैसले पर सवालिया निशान लग गया। साउथैप्टन में कल पूरी रात बारिश हुई है और अगले पांच दिनों तक भी बारिश के आसार हैं। ऐसे में मैदान पर बादल छाए रह सकते हैं और इस स्थिति में तेज गेंदबाजों में मदद मिलनी तय है। वहीं दूसरी ओर पिच पर अभी भी घास है। अगर मैच से पहले घास नहीं हटाई जाती है तो भारत का दो स्पिनर के साथ उतरने का फैसला आत्मघाती हो सकता है।
भारत के पास चौथे तेज गेंदबाज के रूप में मोहम्मद सिराज का विकल्प था जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ काफी बढ़िया प्रदर्शन किया था। हार्दिक पंड्या फिलहाल टेस्ट टीम से बाहर हैं और भारत के पास ऐसा ऑलराउंडर नहीं है तो तेज गेंदबाजी कर सके। शार्दुल ठाकुर बल्लेबाजी भी कर लेते हैं लेकिन उन्हें डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया था। ऐसे में भारत के पास ऑलराउंडर के रूप में सिर्फ रवींद्र जडेजा का विकल्प था।विदेशों में ज्यादा सफल नहीं अश्विन-जडेजा की जोड़ीजडेजा और अश्विन ने एक साथ 35 टेस्ट मैच खेले हैं और 362 विकेट अपने नाम किया। हालांकि विदेशी पिचों इस जोड़ी ने एक साथ ज्यादा टेस्ट मैच नहीं खेला है। इस जोड़ी ने ज्यादातर सफलताएं भारतीय पिचों पर हासिल की है। इंग्लैंड में जडेजा ने पांच टेस्ट मैचों में 16 विकेट लिए हैं जबकि अश्विन ने छह टेस्ट मैचों में सिर्फ 14 विकेट लिया है। न्यूजीलैंड की बात करें तो अश्विन ने इस टीम के खिलाफ 6 टेस्ट में 48 विकेट लिए हैं जबकि जडेजा इतने ही टेस्ट मैचों में सिर्फ 19 विकेट ले पाए हैं। इतना ही नहीं जडेजा को विदेशी पिचों विकेट हासिल करने के लिए संघर्ष करना पड़ता है। भारतीय पिचों पर जडेजा 56 के स्ट्राइक रेट से विकेट लेते हैं जबकि विदेशी पिचों पर उन्हें 68।4 गेंदों में एक विकेट मिलता है।भारतीय टीम इस प्रकार है: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा, आर अश्विन, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा ओर मोहम्मद शमी।