PAK vs NZ: फिर खुली पाकिस्तान की पोल, न्यूजीलैंड ने रद्द किया दौरा, सुरक्षा कारणों से लिया फैसला

शुक्रवार को पूरी दुनिया के सामने एक बार फिर से पाकिस्तान के हालात और सुरक्षा के दावों की पोल खुल गयी, जब तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले से ठीक पहले मेहमान न्यूजीलैंड टीम ने पाकिस्तान का दौरा रद्द कर वापस स्वदेश लौटने का ऐलान कर दिया. न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच शुरू होने से ठीक पहले सुरक्षा को खतरे का हवाला देते हुए पाकिस्तान का अपना वर्तमान दौरा रद्द कर दिया है. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने हालांकि कहा कि न्यूजीलैंड की टीम की सुरक्षा को किसी तरह का खतरा नहीं था. समस्या तब शुरू हुई जब सीमित ओवरों की श्रृंखला का पहला वनडे आज रावलपिंडी स्टेडियम में शुक्रवार को समय पर शुरू नहीं हुआ और दोनों टीमें होटल के अपने कमरों में ही रहीं. इसके बाद ही क्रिकेट न्यूजीलैंड ने पूरा दौरा ही रद्द करने का ऐलान कर दिया.

ind vs nz

 

क्रिकेट न्यूजीलैंड ने जारी बयान में कहा कि सुरक्षा सलाकार की सलाह के बाद ही हमें दौरा रद्द करने का फैसला किया है. हमें बताया गया है कि सुरक्षा को लेकर खतरा बहुत ज्यादा बढ़ गया है. फिलहाल टीम के वापस स्वदेश लौटने के इंतजाम किए जा रहे हैं. और यह बात साबित करती है पाकिस्तान चाहे कितने ही दावे करे, उसके पीएम कितना ही भरोसा दिलाएं, लेकिन पाकिस्तान के भीतर की वास्तविक तस्वीर कुछ और ही है और यह मेजबान देश के लिए बहुत ही चिंतित करने वाली बात है. बता दें कि न्यूजीलैंड टीम साल 2003 के बाद करीब 18 साल बाद पाकिस्तान दौरे पर कोई सीरीज खेलने पहुंची थी, लेकिन सीरीज शुरू होने से पहले ही इसकी हवा निकल गयी. ध्यान दिला दें कि साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर आतंकी हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट ही नहीं, बल्कि बाकी खेलों की टीमों ने भी पाकिस्तान आने से मना कर दिया था. इतना लंबा समय गुजरने के बाद जैसे-तैसे टीमों का पाकिस्तान पहुंचना शुरू हुआ, लेकिन एक बार फिर से तस्वीर कमोबेश पहले जैसे ही हो चली है.

 

इसके बाद न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी डेविड वाइट ने बयान जारी करके कहा कि उन्हें जो सलाह मिल रही थी उसे देखते हुए दौरा जारी रखना संभव नहीं है. उन्होंने कहा, ‘मैं समझता हूं कि यह पीसीबी के लिये करारा झटका होगा जो कि शानदार मेजबान रहा है लेकिन खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोपरि है और हमारा मानना है कि इसके लिये यही जिम्मेदारी भरा विकल्प है.’न्यूजीलैंड क्रिकेट खिलाड़ी संघ के मुख्य कार्यकारी हीथ मिल्स ने भी वाइट के विचारों पर सहमति जतायी. मिल्स ने कहा, ‘खिलाड़ी सुरक्षित हैं और प्रत्येक अपने सर्वश्रेष्ठ हितों में काम कर रहा है.’न्यूजीलैंड क्रिकेट ने सुरक्षा खतरों के बारे में विस्तार से नहीं बताया और न ही टीम की वापसी के लिये की जा रही व्यवस्था पर टिप्पणी की.