IPL: केन विलियमसन समेत किसी भारतीय खिलाड़ी को रिटेन कर सकती है सनराइजर्स हैदराबाद

14वें सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद का प्रदर्शन बेहद खराब रहा था. टीम अंक तालिका में अंतिम स्थान पर रही। फ्रेंचाइजी ने कप्तानी की जिम्मेदारी केन विलियमसन को बीच के सत्र में ही सौंप दी थी, हालांकि वह टीम को प्लेऑफ में ले जाने में सफल नहीं हो सके। सनराइजर्स हैदराबाद आईपीएल 2022 के लिए केन विलियमसन पर भरोसा कर सकती है। सनराइजर्स हैदराबाद कैंप से आ रही खबरों के मुताबिक विलियमसन टीम से जुड़ने के लिए तैयार हो गए हैं। टीम मैनेजमेंट ने उनके साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन किया है।

Hyderabad: Sunrisers Hyderabad’s Kane Williamson and Bhuvneshwar Kumar walks back to the pavilion after the end of first innings during the eighth IPL 2019 match between Sunrisers Hyderabad and Rajasthan Royals at Rajiv Gandhi International Stadium in Hyderabad on March 29, 2019. (Photo: IANS)

राशिद खान के साथ करार अभी अधर में
रिपोर्ट्स के मुताबिक सनराइजर्स हैदराबाद टी20 के दुनिया के नंबर एक गेंदबाज राशिद खान को रिटेन करना चाहता है, लेकिन सैलरी की बात नहीं हो रही है. राशिद खान को फिलहाल 9 करोड़ रुपए मिलते हैं। फ्रेंचाइजी इसे बढ़ाकर 12 करोड़ रुपये करने को तैयार है, लेकिन राशिद को लगता है कि अगर वह नीलामी में जाता है तो उसे ज्यादा कीमत मिल सकती है. इसलिए उन्होंने अभी लिखित के लिए अपनी सहमति नहीं दी है।

उमरान मलिक को बरकरार रखा जा सकता है
हैदराबाद सिर्फ एक भारतीय खिलाड़ी उमरान मलिक को रिटेन कर सकता है। मलिक ने आईपीएल के 14वें सीजन से डेब्यू किया था। उन्होंने सीजन की सबसे तेज गेंदबाजी की। वह इस समय दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर हैं और भारतीय ए टीम का हिस्सा हैं। हालांकि, फ्रैंचाइज़ी ने मलिक को कितना जोड़ा, इसका खुलासा होना अभी बाकी है।

डेविड वॉर्नर और जॉनी बेयरस्टो को करेंगे रिलीज
हैदराबाद ने पूर्व कप्तान डेविड वार्नर और बेयरस्टो को रिहा करने का फैसला किया है। माना जा रहा था कि टी20 वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन की वजह से वॉर्नर को रिटेन किया जा सकता है।

30 नवंबर तक जारी करनी होगी रिटेंशन लिस्ट
आईपीएल 2022 के रिटेंशन नियमों के अनुसार, पहले से मौजूद आठ टीमें अधिकतम चार खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती हैं। इसके लिए आठ पुरानी टीमों को 30 नवंबर तक खिलाड़ियों के रिटेंशन की सूची जारी करनी होगी। इसके बाद दो नई टीमें लखनऊ और अहमदाबाद में 1 से 25 दिसंबर तक तीन-तीन खिलाड़ी शामिल हो सकते हैं।

खिलाड़ियों को रिटेन करने पर कटेगा ऐसा पैसा
अगर किसी फ्रेंचाइजी ने नीलामी से पहले अधिकतम चार खिलाड़ियों को रिटेन किया है, तो पहले खिलाड़ी के लिए वेतन पर्स में 16 करोड़ रुपये, दूसरे के लिए 12 करोड़ रुपये, तीसरे के लिए 8 करोड़ रुपये और चौथे के लिए 6 करोड़ रुपये की कटौती होगी। अगर केवल तीन खिलाड़ियों को रिटेन किया जाता है, तो पहले के लिए 15 करोड़ रुपये, दूसरे के लिए 11 करोड़ रुपये और तीसरे के लिए 7 करोड़ रुपये काटे जाएंगे।
दो खिलाड़ियों को रिटेन करने की स्थिति में पहले के लिए 14 करोड़ रुपये और दूसरे के लिए 10 करोड़ रुपये काटे जाएंगे। अगर सिर्फ एक खिलाड़ी को रिटेन किया जाता है तो फ्रेंचाइजी को अपने पर्स से 14 करोड़ रुपये चुकाने होंगे।