INDvsWI: जडेजा को रनआउट कराने के लिए पोलार्ड ने की ये शर्मनाक हरकत, अंपायर पर भड़के कोहली

भारत और वेस्टइंडीज के बीच पहला वनडे चेन्नई में खेला गया। इस मैच में जडेजा के रनआउट पर खूब बवाल मचा।

भारत और वेस्टइंडीज के बीच अंपायर के निर्णय काफी ज्यादा चर्चा में रहे है। टी-20 में ही अंपायर के निर्णय पर सवाल उठे थे वहीं अब पहले वनडे में भी एक और ऐसा बवाल सामने आ गया है। दरसल भारत की पारी के अंतिम ओवर चल रहे थे। कीमो पॉल की 48वें ओवर की चौथी गेंद पर रविन्द्र जडेजा ने मिडविकेट की तरफ गेंद को पुश करके एक रन के लिए भागे। उस छेत्र में रोस्टन चेस तैनात थे। उन्होंने इतनी तेज थ्रो किया जिससे जडेजा रनआउट हो गए। हालांकि वेस्टइंडीज खिलाड़ियों ने रनआउट की लेकिन अंपायर ने नॉटआउट करार दिया।

थोड़ी देर बाद जब ये पता चला कि जडेजा रनआउट है तो कप्तान पोलार्ड ने अंपायर को अपना निर्णय बदलने को कहा। जिसके बाद ये विवाद काफी बढ़ गया। दरसल पोलार्ड को उनके ड्रेसिंग रूम से इशारा किया गया था कि जडेजा रनआउट है। जिसके बाद पोलार्ड ने रनआउट दोबारा चेक करने की मांग की। इन सब को देख विराट कोहली भी गुस्से में ड्रेसिंग से मैदान के बाहर आ गए और बाउंडरी लाइन पर खड़े हो गए। बाउंडरी लाइन से ही कोहली ने अंपायर को खरी खोटी सुनाई।

कोहली इसलिए गुस्सा थे क्योंकि पोलार्ड को उनके ड्रेसिंग रूम से इशारा हुआ था कि जडेजा रनआउट है और वो इसकी दोबारा अपील करें। हालांकि बाद में अंपायर ने दोबारा इसका फैसला थर्ड अंपायर को दिया। जिसमें जडेजा आउट करार दिए गए। इसके बाद इस विवाद की खूब चर्चा हुई। जिसमें सबसे पहले उंगली उठाई गई अंपायर पर और कप्तान पोलार्ड पर खेल भावना भंग करने की। बहराल आपको क्या कहना है इस बारे में, आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं।