IND Vs AUS: ऑस्ट्रेलिया को 13 रनों से हराकर भारत ने जीता तीसरा वनडे, मैच में बने 7 बड़े रिकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया को तीसरे वनडे में 13 रनों से हराकर भारतीय टीम क्लीन स्वीप टालने में कामयाब रही। इस बार टीम इंडिया ने 302 रनों का स्कोर बचाया और ऑस्ट्रेलिया को 289 रनों के स्कोर पर ढेर कर दिया। हार्दिक पांड्या को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। जबकि 3 मैचों में 2 शतक जड़ते हुए 216 रन बनाने वाले स्टीव स्मिथ को प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब मिला।

मैच का हाल

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था। विराट कोहली 63 (78), हार्दिक पांड्या 92 नाबाद (76) और रवींद्र जडेजा की नाबाद 66 (50) अर्धशतकीय पारियों के दम पर भारतीय टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 302 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से स्पिन गेंदबाज एश्टन अगर 2 विकेट से साथ सबसे सफल गेंदबाज रहे।

भारत के 303 रनों के लक्ष्य को भेदने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम 49.3 ओवर में 289 रन बनाकर धराशायी हो गई। वे लक्ष्य से 13 रन दूर रह गए। उनके लिए एरॉन फिंच सबसे सफल बल्लेबाज रहे। उन्होंने 82 गेंदों में 75 रनों की पारी खेली। जबकि ग्लेन मैक्सवेल के बल्ले से 59 (38) और एलेक्स केरी के बल्ले से 38 (42) रन निकले। वहीं शार्दूल ठाकुर को तीन सफलताएं मिली। जबकि जसप्रीत बुमराह और टी नटराजन ने 2-2 विकेट झटके।

मैच में बने 7 रिकॉर्ड्स

1. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस मैच में विराट कोहली ने 63 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 23 रन बनाकर 12 हजार वनडे रन भी पूरे कर लिए। उन्होंने सचिन तेंदुलकर के सबसे तेज 12000 रनों रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया है। सचिन ने इस मुकाम को हासिल करने के लिए 300 और विराट कोहली ने 242 पारियां खेली।

2. इस मैच के पहले तक वनडे में हार्दिक पांड्या के नाम 90 रनों की सर्वोच्च पारी दर्ज थी। उन्होंने 76 गेंदों में 92 रनों की पारी खेल अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

3. कोहली ने अपना पहला वनडे शतक 2009 में श्रीलंका के विरुद्ध बनाया था। तब से हर साल विराट शतक लगाने में कामयाब रहे हैं। लेकिन पिछले 11 सालों में 2020 पहला साल है जब वे कोई भी वनडे शतक नहीं जड़ सके।

4. ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड एकदिवसीय क्रिकेट में विराट कोहली को लगातार सबसे ज्यादा बार आउट करने वाले गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने कोहली को लगातार 4 बार आउट किया। इसके पहले भारतीय कप्तान को जुनैद खान, झ्ये रिचर्ड्सन और ट्रेंट बोल्ट लगातार 3-3 बार अपना शिकार बना चुके हैं।

5. 63 रन की अर्धशतकीय पारी खेल कोहली सबसे ज्यादा बार वनडे 50 प्लस पारियां खेलने के मामले में जैक कैलिस के साथ संयुक्त रूप से चौथे पायदान पर आ गए हैं। दोनों दिग्गजों ने 103 बार 50 या उससे अधिक रनों की पारी खेली है। वहीं नंबर 1 पर मौजूद सचिन तेंदुलकर 145 बार 50 प्लस इनिंग्स खेल चुके हैं।

6. हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा ने छठवें विकेट के लिए 150 नाबाद रनों की साझेदारी की। उनकी छठवें विकेट की ये साझेदारी भारत के लिए तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। इसके पहले अंबाती रायडू-स्टुअर्ट बिन्नी और युवराज सिंह-एमएस धोनी की जोड़ी ने क्रमशः 160 और 158 रन 6वें विकेट के लिए जोड़े थे।

7. कैनबरा के मैदान पर ये भारतीय टीम की पहली जीत है। उन्होंने यहां 3 वनडे खेले हैं। 2008 में श्रीलंका और 2016 में ऑस्ट्रेलिया के हाथों टीम इंडिया हार का सामना करना पड़ा था।

Leave a Comment