Cricket Shocking news: Centurion टेस्ट के बाद Quinton De Kock ने अचानक टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास, फिर 30 दिसंबर की वो 8 साल पुरानी घटना याद आई

दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उनका यह फैसला चौंकाने वाला है, क्योंकि वह गुरुवार को भारत के खिलाफ खेलने वाली टीम में शामिल थे। भारत ने सेंचुरियन में खेला गया यह टेस्ट 113 रन से जीता था। इस टेस्ट के बाद डिकॉक दूसरे और तीसरे टेस्ट में पैटरनिटी लीव लेने वाले थे, लेकिन अचानक से उन्होंने संन्यास लेने का एलान किया। हालांकि, डिकॉक वनडे और टी-20 फॉर्मेट में खेलते रहेंगे।

डिकॉक ने संन्यास को लेकर क्या कहा?

Quinton de Kock: सेंचुरियन में हार के बाद अफ्रीकी प्लेयर ने टेस्ट क्रिकेट  से लिया संन्यास - quinton de kock announces immediate retirement from test  cricket tspo - AajTak11 hours ago AajTak Quinton de Kock: सेंचुरियन में हार के बाद अफ्रीकी प्लेयर ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास - quinton de kock announces immediate retirement from test cricket
Quinton de Kock: सेंचुरियन में हार के बाद अफ्रीकी प्लेयर ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास – quinton de kock announces immediate retirement from test cricket tspo – AajTak11 hours ago
AajTak
Quinton de Kock: सेंचुरियन में हार के बाद अफ्रीकी प्लेयर ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास – quinton de kock announces immediate retirement from test cricket

डिकॉक ने अपने बयान में कहा- मैं अब अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिताना चाहता हूं। इसी वजह से टेस्ट से रिटायरमेंट लेने का फैसला लिया है। डिकॉक जल्द ही पिता बनने वाले हैं। उन्होंने कहा कि यह फैसला आसान नहीं था। मैंने इसके बारे में काफी सोचा है और अपने भविष्य का पूरी तरह से आंकलन किया।

क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने अपने बयान में कहा, “विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक ने अपने बढ़ते परिवार के साथ अधिक समय बिताने के अपने इरादे का हवाला देते हुए तत्काल प्रभाव से टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की है.”

ऐसा रहा टेस्ट करियर

डिकॉक ने साउथ अफ्रीका के लिए 54 टेस्ट मैच खेले हैं। इनमें उन्होंने 3300 रन बनाए
डिकॉक ने साउथ अफ्रीका के लिए 54 टेस्ट मैच खेले हैं। इनमें उन्होंने 3300 रन बनाए

बता दें कि डिकॉक ने साउथ अफ्रीका के लिए कुल 54 टेस्ट खेले. इस दौरान उन्होंने 38.82 की औसत से 3300 रन बनाए. टेस्ट क्रिकेट में डिकॉक के बल्ले से कुल छह शतक और 22 अर्धशतक निकले. वहीं उनका सर्वाधिक स्कोर 141 रन रहा.

साल की शुरुआत कप्तान और अंत संन्यास के साथ
29 साल के डिकॉक ने 2021 की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट कप्तान के तौर पर की थी और साल का अंत संन्यास लेकर किया है। उन्होंने चार टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका की कप्तानी की। इसमें श्रीलंका और पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट शामिल है। उनका टेस्ट में बतौर 50 प्रतिशत जीत का रिकॉर्ड है। दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका को अपने घर में 2-0 से हराया, लेकिन पाकिस्तान दौरे पर 2-0 से टेस्ट सीरीज हार गए थे।

बायो-बबल से भी नाराज थे डिकॉक
डिकॉक ने इसके बाद बायो-बबल में जिंदगी को लेकर कई बयान जारी किए थे और कहा था कि इससे खिलाड़ियों पर मानसिक दबाव पड़ता है। इसके बाद उन्हें श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज और नीदरलैंड्स के खिलाफ सीरीज में आराम दिया गया था। डिकॉक उन चुनिंदा खिलाड़ियों में भी हैं, जो नस्लभेद के खिलाफ घुटने के बल बैठने से मना कर दिया था।

साल 2014 में जब धोनी ने था चौंकाया

संन्यास के बाद हरभजन सिंह ने कहा- टीम से बाहर होने पर धोनी से सवाल करने की कोशिश की, नहीं मिला जवाब
संन्यास के बाद हरभजन सिंह ने कहा- टीम से बाहर होने पर धोनी से सवाल करने की कोशिश की, नहीं मिला जवाब

धोनी ने साल 2014 में टेस्ट क्रिकेट छोड़ने का एलान किया था, तब रवि शास्त्री टीम के डायरेक्टर हुआ करते थे. रवि शास्त्री ने उस वक्त को याद कर कहा, ” जब धोनी ने हमें बताया कि वो टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले रहे हैं, हम सब चौक गए थे. मुझे याद है वो मेरे पास आए थे और कहा था कि मैं खिलाड़ियों को कुछ कहना चाहता हूं. मैंने कहा- बिल्कुल. मुझे लगा कि वो कुछ ऐसा बोलेंगे कि हमने एक बढ़िया मैच ड्रॉ कराया है. लेकिन उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से अपने रिटायर होने की खबर सुनाई. मैंने ड्रेसिंग रूम में सभी के चेहरे देखे, वो सभी चौक गए थे, लेकिन यही महेंन्द्र सिंह धोनी हैं.”

डिकॉक का फैसला भी कम हैरान करने वाला नहीं

तब धोनी ने चौंकाया था. अब 8 साल बाद क्विंटन डिकॉक ने भी वही काम किया था. डिकॉक इसी साल थोड़े वक्त के लिए साउथ अफ्रीका की टेस्ट टीम के कप्तान भी बने थे. लेकिन अब उन्होंने टेस्ट क्रिकेट छोड़ने का फैसला किया है. वो साउथ अफ्रीका के अहम खिलाड़ियों में से एक हैं, जो तीनों फॉर्मेट में लाजवाब खेलते हैं. हालांकि, जल्दी ही पिता बनने जा रहे डिकॉक अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिताने के लिए अब टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कर दिया है.