भारत के पक्ष में आया फ़ैसला तो ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने अंपायर को मैदान में दी गाली, लगा मैच इतना बड़ा जुर्माना

अंपायर के फैसले पर असहमति जताने पर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन पर मैच फीस का 15% जुर्माना लगा है। पेन ने सिडनी टेस्ट में भारत की पहली पारी के 56वें ओवर में चेतेश्वर पुजारा के खिलाफ रिव्यू गंवाने के बाद अंपायर के फैसले की आलोचना की थी। पेन को अंपायर पॉल विल्सन को ‘फ*** कंसिस्टेंसी, ब्लॉकर’ कहते सुना गया था।

इसके अलावा पेन के अनुशासनात्मक रिकॉर्ड में एक डिमेरिट भी अंक जोड़ दिया गया है। पेन की पिछले 24 महीनों में यह पहली गलती है। बता दें कि आईसीसी का डिमेरिट अंक एक खिलाड़ी का व्यक्तिगत अनुशासनात्मक रिकॉर्ड है। किसी खिलाड़ी को एक बार डिमेरिट अंक दे दिए जाते हैं तो ये 24 महीने तक रिकॉर्ड में रहते हैं। दरअसल, भारत के खिलाफ मैच के दौरान जब अंपायर ने चेतेश्वर पुजारा को नॉट आउट दिया तो पेन उस फैसले से असहमत नजर आए और अंपायर से बहस करने लगे। इस ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने मैदानी अंपायर पॉल विलसन को अपशब्द कहा।

पारी के 56वें ओवर में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने नाथन लियोन की गेंद पर शॉर्ट लेग पर कैच की अपील की। लियोन का मानना था कि गेंद पुजारा के बल्ले से लगकर फील्डर के पास गई है। मगर मैदानी अंपायर ने इसे इसे नॉट आउट करार दिया। इस पर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने डीआरएस लेने का फैसला किया। मगर फैसला भारत के पक्ष में आया, इस पर कंगारू कप्तान निराश हो गए।

 

Leave a Comment