Loading...

भारतीय प्रीमियर लीग (आईपीएल 2020) से पहले पूर्व भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर टीवी के खिलाफ विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में दिखाई दिए थे। मार्च में लॉकडाउन ने सभी खेल गतिविधियों को रोक दिया था। आईपीएल में धोनी 14 महीने बाद बल्लेबाजी करने आए थे। बास कुरैन और रवेंद्र जडेजा भी धोनी से पहले बल्लेबाजी के लिए आए। मुंबई इंडियंस के खिलाफ पहले मैच में वाम ने 6 गेंदों पर 18 रन बनाए। दूसरे मैच में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ धोनी सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे। चेन्नई सुपर किंग्स 217 रनों का पीछा कर रही थी। धोनी ने अंतिम ओवर में तीन छक्के लगाए, लेकिन तब तक चेन्नई मैच हार चुका था।

आकाश चोपड़ा ने ईएसपीएनक्रिकइंफो पर अपने कॉलम में लिखा, ” यह सच है कि धोनी पिछले 14 महीने से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेले हैं। रेजिडेंट जॉल्स के साथ मैच के बाद धोनी ने स्वीकार किया कि वह रंग में नहीं थे। लंबी क्वारंटाइन पीरियड भी उनकी कोई मदद नहीं कर पाई। ”

उन्होंने कहा, ” धोनी के बारे में यह अच्छी बात है कि वह सच को स्वीकार करते हैं। वह जानते हैं कि इस बार वह आत्मविश्वास खो चुके हैं खिलाड़ी हैं और सही निर्णय नहीं ले पा रहे हैं। साहस और मूर्खता के बीच बहुत महीन रेखा होती है और यही रेखा सतर्कता और डर के बीच होती है। ”

आकाश चोपड़ा ने लिखा, ” मुझे लगता है कि पहले दो मैचों में निचले क्रम पर आने की जिम्मेदारी से भागना नहीं है, बल्कि वह चेन्नई के लिए बटलें हुए उसे जीत तक ले जाना चाहते हैं। धोनी को लगा कि वह टीम को जीत तक नहीं ले जा सकेगा। ऐसे में उन्होंने महत्वपूर्ण को किनारे कर ऐसा निर्णय लिया। ”

आकाश चोपड़ा ने कहा, ” इस टूर्नामेंट की शुरुआत धोनी ने बिना किसी फॉर्म के की। वह अच्छी तैयारी की थी, जिसके बदौलत उसने अंतिम ओवर में तीन छक्के लगाए। इसका नेतृत्व टीम का स्कोर 200 तक पहुंच गया। मुझे लगता है कि धोनी जल्द ही खुद को सही जगह पर जगह देंगे और जीत में महत्वपूर्ण योगदान देंगे। ”

गौतम गंभीर के बयान पर उन्होंने कहा, ” चेन्नई बिना सही तरीके से किए गए ही नीचे चला गया, कुछ इस पर बहस करेंगे। गौतम गंभीर जो कि धोनी की आलोचना करने के लिए जा रहे हैं, उन्होंने कहा कि आप आगे से नेतृत्व नहीं कर सकते अगर आप बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए खुद को (बल्लेबाजी क्रम में) नीचे करते रहेंगे। हालाँकि आप इस बात से इनकार नहीं कर सकते, लेकिन धोनी की लीडरशिप बाकी कप्तानों से कहीं अलग है। ”

बता दें कि चेन्नई सुपर किंग्स को अपना तीसरा मैच शुक्रवार (25 सितंबर) को दिल्ली कैपिटल्स के साथ खेलना है। आईपीएल 2020 प्वाइंट टेबल में चेन्नई सुपर किंग्स वर्तमान में एक जीत और एक हार के साथ पांचवे नंबर पर है। वहीं, दिल्ली कैपिटल्स की एक जीत के साथ चौथे नंबर पर है।

Loading...