Loading...

3 अगस्त से शुरू होने वाली वेस्टइंडीज बनाम भारत द्विपक्षीय सीरीज के लिए हाल ही में भारत की टीम की घोषणा हुई थी। इसके बाद वेस्टइंडीज के क्रिकेट बोर्ड ने 3 मैचों की T-20 सीरीज के लिए वेस्टइंडीज की 14 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया हैं। इस टीम में कई दिग्गज खिलाड़ियों की काफी समय के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी हुई हैं। इसके अलावा वेस्टइंडीज के तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल इस टी-20 सीरीज का हिस्सा नही है, क्रिस गेल ने कनाडा की ग्लोब टी-20 लीग खेलने के लिए इस सीरीज से खुद को दूर रखा हैं।

3 साल बाद हुई खतरनाक गेंदबाज की वापसी

भारत के विरुद्ध टी-20 सीरीज में वेस्टइंडीज के सफल गेंदबाजों में शुमार दाएं हाथ के ऑफ ब्रेक स्पिन गेंदबाज सुनील नारायण की लगभग 2 साल के बाद टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी हुई हैं। नारायण ने अपना अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। तब से वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में जगह नही बना पाएं थे।

इसके अलावा अनुभवी कीरोन पोलार्ड भी वेस्टइंडीज की टीम का हिस्सा है, पोलार्ड ने आखरी टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पिछले साल भारत के खिलाफ ही खेला था। पोलार्ड के अलावा ऑलराउंडर के रूप में आंद्रे रसेल भी शामिल हुए है हालांकि वह चोट की वजह से पहले 2 मैच नही खेल पाएंगे। इसके अलावा टीम में कई युवा गेंदबाजों को भी मौका मिला हैं।

वहीं टीम की कमान बेहतरीन ऑलराउंडर खिलाड़ी कार्लोस ब्रेथवेट को सौंपी गई हैं। वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड द्वारा सिर्फ T20 टीम की ही घोषणा हुई है, वनडे और टेस्ट टीम को लेकर अभी कोई जानकारी उपलब्ध नही हैं।

वेस्टइंडीज की 14 सदस्यीय T20 टीम

जॉन कैंपबेल, एविन लेविस, शिमरोन हेटमेयर, निकोलस पूरन, किरोन पोलार्ड, रोव्मन पॉवेल, कार्लोस बर्थवेट (कप्तान), कीमो पॉल, सुनील नारायण, शेल्डन कोटरेल, औशेन थॉमस, एन्थोनी ब्रेंबल, आंद्रे रसल और खरी पियर.

भारत और वेस्टइंडीज में किसकी टी-20 टीम है सबसे ज्यादा खतरनाक? कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताइयेगा।

Loading...