Loading...

विश्व कप 2019 के फाइनल मैच में न्यूजीलैंड की टीम हार गई और इंग्लैंड की टीम पहली बार विश्व विजेता बनी। 23 साल बाद दुनिया को नया विश्व विजेता मिला। लेकिन इस ट्रॉफी पर न्यूजीलैंड की टीम का कब्जा हो सकता था। हालांकि मैच के आखिरी 9 गेंदों में तीन ऐसे मौके आए, जिसकी बदौलत इंग्लैंड की टीम का पलड़ा भारी हो गया। इंग्लैंड की किस्मत ने उसका साथ दिया और उसने इतिहास रच दिया। इन 3 मौकों की वजह से इंग्लैंड को मिली चमचमाती ट्रॉफी।

1- ट्रेंट बौल्ट कैच पकड़कर पहुंच गए बाउंड्री लाइन के पार

इंग्लैंड को जीत के लिए 12 गेंदों में 24 रन बनाने थे। तब जिमी नीशम गेंदबाजी करने आए। जिमी नीशम की चौथी गेंद पर बेन स्टोक्स ने हवा में शॉट खेला और गेंद मिड विकेट बाउंड्री पर फील्डिंग कर रहे ट्रेंट बोल्ट के हाथों में गई। लेकिन ट्रेंट बोल्ट कैच पकड़कर बाउंड्री लाइन के अंदर चले गए, जिस वजह से बेन स्टोक आउट नहीं हुए और यही गलती न्यूजीलैंड को बहुत भारी पड़ी।

2- ओवरथ्रो के चौके ने बदल दिया समीकरण

50वें ओवर की चौथी गेंद पर स्टोक्स 2 रन लेने के लिए दौड़ पड़े। मार्टिन गुप्टिल ने गेंद पकड़कर विकेटकीपर वाले छोर पर गेंद थ्रो की। लेकिन बेन स्टोक्स आउट नहीं हुए। लेकिन गेंद बल्ले से लगकर चार रन के ल‌िए बाउंड्री के पार चली गई। इस गेंद पर कुल मिलाकर इंग्लैंड को 6 रन मिले। जबकि इस गेंद पर केवल 2 रन मिलते।

3- बेन स्टोक्स की जगह आदिल राशिद को किया रनआउट

50वें ओवर की पांचवीं गेंद पर बेन स्टोक्स ने शॉट खेला और वह रन लेने के लिए दौड़ पड़े। लेकिन दूसरा रन लेने के दौरान दोनों बल्लेबाज पिच के बीच में थे और गेंद ट्रेंट बोल्ट के हाथों में आ गई। उन्होंने नॉन स्ट्राइक पर खड़े आदिल ऑफिस को रन आउट किया। अगर वह बेन स्टोक्स को आउट करते तो शायद न्यूजीलैंड की टीम जीत जाती है।

Loading...