Loading...

टीम इंडिया के लिए विश्व कप 2019 का अंत कुछ खास तरह से नहीं हुआ था. टीम इंडिया को सेमीफाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन अब समय पुरानी हार को भुलाते हुए आगे के सफर को देखना है और साथ ही पूरे विश्व कप को एक बार फिर अपना दम दिखाना है. विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का आगाज हो चुका है. इसके तहत अब सभी देशों के बीच टेस्ट श्रृंखलाएं शुरु होने जा रही है.

इसके तहत पहला टेस्ट इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच 1 अगस्त से खेला जाएगा. इसके बाद, भारत-वेस्ट इंडीज और न्यूजीलैंड-श्रीलंका के मुकाबले भी होंगे.

वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में कुल 9 देश हिस्सा लेंगे, जिसमें ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, भारत, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और वेस्ट इंडीज जैसे बड़े देशों के नाम शामिल है. टीम इंडिया को अगले 2 सालों में 18 टेस्ट मुकाबले खेलने है. ये सभी टेस्ट मुकाबले टीम इंडिया के आने वाले कल की एक बार फिर कहानी लिखते नजर आने वाले है.

बता दें कि वर्ल्ड चैम्पियनशिप में सभी टीमें 6 सीरीज खेलेंगी. इनमें तीन सीरीज घरेलू और तीन विदेशी जमीन पर होंगी. एक सीरीज में कम से कम दो और ज्यादा से ज्यादा 5 टेस्ट खेले जा सकते है. लीग राउंड के खत्म होने के बाद जून 2021 में इंग्लैंड के ग्राउंड पर फाइनल खेला जाएगा. 22 महीने में 144 टेस्ट खले जाएंगे. भारतीय टीम कुल 18 मुकाबलों में हिस्सा लेगी.

यहां देखें भारतीय टीम का पूरा शेड्यूल

1.जुलाई – अगस्त 2019 : 2 टेस्ट (वेस्ट इंडीज के खिलाफ वेस्ट इंडीज में)

2. अक्टूबर – नवंबर 2019 : 3 टेस्ट (दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत में)

3. नवंबर 2019 : 2 टेस्ट (बांग्लादेश के खिलाफ भारत में)

4. फरवरी 2020 : 2 टेस्ट (न्यूजीलैंड के खिलाफ न्यूजीलैंड में)

5. दिसंबर 2020 : 4 टेस्ट (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में)

6. जनवरी – फरवरी 2021 : 5 टेस्ट (इंग्लैंड के खिलाफ भारत में)

Loading...