Loading...

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में भारतीय टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। एक समय ऐसा था जब इस टीम को वर्ल्ड कप 2019 के कप का सबसे बड़ा दावेदार माना जा रहा था लेकिन अचानक सेमीफाइनल में मिली हार ने सबकुछ बदल दिया और टीम वर्ल्ड कप से बाहर हो गई। वर्ल्ड कप भारत की इस बार की टीम से दूसरी टीमें खौफ खा रही थी लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

OFFER: 5 आसान सवालों के जवाब देकर जीतें 100₹ Paytm कैश, जल्दी करें ऑफर सिमित समय के लिए

टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली ने कहा है कि उन्होंने अपनी जिंदगी में हार और नाकामयाबी से काफी कुछ सीखा है। उन्होंने कहा, ‘बुरे वक्त ने मुझे ना केवल आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया बल्कि एक इंसान के तौर पर भी मुझमें सुधार हुआ। इससे मुझे खराब दौर की अहमियत सफलता से ज्यादा महसूस हुई। इससे मुझे लगा कि बैठकर सोचें कि अब क्या करने की जरूरत है और अपने लिए रोडमैप तैयार करें।’

उन्होंने कहा टीम में कोई मतभेद नहीं है जितना दोस्ताना व्यवहार मेरा कुलदीप के साथ है, वैसा ही महेंद्र सिंह धोनी और रोहित के साथ साथ है। माहौल ऐसा है कि कोई भी अपनी बात किसी से कह सके। मैं खुद अब लोगों के पास जाकर कहता हूं- देखो ये गलतियां मैंने की हैं, तू मत करना।’ उन्होंने कहा क़ीमिडिया में ये भी खबर था कि मैं रोहित को कप्तानी से हटाने के लिए वेस्टइंडीज जा रहा हूँ।

कोहली ने कहा कि यकीं मानिये मेरे और रोहित के बीच में कोई खटास नहीं है हम दोनों साथ खेलते हैं और योजना बनाते है सिर्फ जीतने के लिए। उन्होंने कहा कि रोहित को या मुझे कप्तानी का लालच नहीं है हम दोनों देश के लिए खेलते हैं और हर मैच में जीतना चाहते हैं। रोहित बहुत ईमानदार खिलाड़ी है और शानदार इंसान भी।

OFFER: 5 आसान सवालों के जवाब देकर जीतें 100₹ Paytm कैश, जल्दी करें ऑफर सिमित समय के लिए

Loading...