युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ टेस्ट क्रिकेट में इस दिग्गज को मानते है अपना गुरू

पृथ्वी शॉ ने भारत के लिए दो टेस्ट मैचों में 118.2 की औसत से 237 रन बनाए हैं,

नई दिल्ली।

सोमवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम से इतर पृथ्वी ने कहा, टेस्ट क्रिकेट में मैं पुजारा भाई से सिखता हूं और कोशिश रहती है कि क्रिकेट के इस बड़े प्रारूप में अपने आप को साबित कर सकूं।

आईसीसी विश्व कप में भारतीय टीम के प्रदर्शन को लेकर पृथ्वी ने कहा कि भारतीय टीम ने विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन किया, हालांकि सेमीफाइनल में भारतीय टीम की हार निराशानक रही और इससे हम सभी को काफी दुख हुआ।

शॉ से जब पूछा गया कि विश्व कप से आपने क्या सीखा तो पृथ्वी ने कहा कि उन्होंने विश्व कप के हर मैच को बड़े नजदीक से देखा और हर मैच से उन्होंने कुछ न कुछ सीखा। उन्होंने कहा कि अगला विश्व कप चार साल बाद है और हमारी कोशिश रहेगी कि वह विश्व कप हमारा हो।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

बता दें कि पृथ्वी शॉ ने भारत के लिए दो टेस्ट मैचों में 118.2 की औसत से 237 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक शामिल है। 134 रन उनका सर्वोच्च स्कोर है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166