भारत के इस युवा क्रिकेटर को मैच के दौरान आया हार्ट अटैक, अस्पताल पहुंचने से पहले हुई मौत

कई खिलाड़ियों ने क्रिकेट मैदान में जान गंवाई है। इसी बीच त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में बीते मंगलवार ऐसी ही एक घटना घट गई। खबरों की मानें तो दिल का दौरा पड़ने से त्रिपुरा की अंडर-23 टीम के मिथुन देबबर्मा नाम के खिलाड़ी की जान चली गई। मैच के दौरान देबबर्मा को हार्ट अटैग आ गया था और उनकी मौत अस्पताल पहुंचने से पहले ही हो गई।

युवा क्रिकेटर की मौत हुई हार्टअटैक से
खबरों के अनुसार, अगरतला के महाराजा बिर बिक्रम क्रिकेट स्टेडियम में बीते मंगलवार को प्रैक्टिस मैच खेला जा रहा था। इस मैच में मिथुन देबबर्मा खेल रहे थे। मैच के दौरान मैदान पर मिथुन फील्डिंग कर रहे थे तभी अचानक मैदान पर मिथुन गिर गए।

जैसे ही मैदान पर मिथुन को गिरते और बेहोश होते हुए देखकर साथी खिलाड़ियों ने उन्हें उठाया और पास के इंदिरा गांधी मेमोरियल अस्पताल में ले गए। अस्पताल पहुंचे ही डॉक्टर्स ने देबबर्मा को मृत बता दिया। डॉक्टर्स ने कहा कि हार्ट अटैक की वजह से मिथुन देबबर्मा की मौत हुई है। यह सुनकर हर कोई दंग रह गया। मिथुन को गंभीर हार्टअटैक आने की जानकारी डॉक्टर्स ने दी। देबबर्मा की मौत अस्पताल जाने से पहले ही रास्ते में हो गई।

अब सब इस बात से हैरान हैं कि इतनी कम उम्र में मिथुन को दिल का दौरा कैसे आ सकता है। इसकी वजह जानने के लिए मिथुन देबबर्मा का पोस्टमॉर्टम किया जाएगा जिसके लिए उनका शव भेज दिया गया है। त्रिपुरा क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. मानिक शाह मिथुन देबबर्मा की मौत की खबर सुनकर अस्पताल पहुंचे। इस हादसे से कई बड़े खिलाड़ी भी सदमे में आ गए हैं।

दिल का दौरा पड़ने से पहले भी हो चुकी है मौत
दिल का दौरा पड़ने से क्रिकेट मैदान पर इससे पहले कई खिलाड़ियों की जान चली गई है। गोवा के पूर्व रणजी क्रिकेटर राजेश घोडगे की इसी साल दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। एक क्लब मैच के दौरान उनको हार्टअटैक आया था।

वहीं संदीप चंद्रकांत महात्रे नाम के खिलाड़ी की मौत दिल का दौरा पड़ने से हो गई। नवी मुंबई में 36 साल की उम्र में एक टूर्नामेंट के दौरान उनको हार्टअटैक आया। रेलवे क्रिकेटर के मैच के दौरान पिछले साल भोपाल में दिल का दौरा पड़ने से एक खिलाड़ी की मौत हो गई।