Loading...

मुंबई।

बता दें कि ये ओवरथ्रो के 4 रन अंत में निर्णायक साबित हुए। फाइनल मैच के अंतिम ओवर में 242 रनों का पीछा कर रही इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने दो रन दौड़ कर लिए थे और दूसरा रन लेने के दौरान मार्टिन गप्टिल का थ्रो स्टोक्स के बल्ले से टकराकर बाउंड्री पार चला गया था जिससे इंग्लैंड के खाते में चार रन और आ गए थे।

मैदानी अंपायर कुमार धर्मसेना ने अपने साथी अंपायरों से बात करने के बाद छह रन इंग्लैंड को दिए थे। इंग्लैंड इससे मैच में वापस आ गई थी। जबकि कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि पांच ही रन दिए जाने चाहिए थे। ऐसी स्थिति में इंग्लैंड को न्यूजीलैंड के खिलाफ एक रन से हार का सामना करना पड़ता जिसने आठ विकेट पर 241 रन बनाए थे। टेस्ट टीम में स्टोक्स के साथी एंडरसन ने कहा कि इस ऑलराउंडर ने ओवरथ्रो के तुरंत बाद हाथ उठाकर माफी मांग ली थी और अंपायरों से अपील की थी कि वे अपना फैसला बदल दें।

Loading...