पाकिस्‍तान ने टीम इंडिया की बखिया उधेड़ दी, फाइनल में 180 रन से दी करारी शिकस्‍त, विराट-रोहित सब फिसड्डी

pakistan beat india in 2017 champions trophy final on this day

क्रिकेट का मैदान और 22 गज की पिच. दर्शकों का चरम पर पहुंचा उत्‍साह और नीली और हरी जर्सी में दिग्‍गज खिलाडि़यों की कतार. जब भी भारत और पाकिस्‍तान (India vs Pakistan) की चिर प्रतिद्वंद्वी टीमें कोई मुकाबला खेलने उतरती है तो दर्शकों और फैंस में अजीब सा करंट दौड़ जाता है. और जब बात आईसीसी टूर्नामेंट्स की हो तो टीम इंडिया की पाकिस्‍तान पर बादशाहत किसी से भी छिपी नहीं है. लेकिन सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) की कप्‍तानी में पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) ने इस मुकाबले में कहानी पूरी तरह पलटकर रख दी. ये कहानी 2017 चैंपियंस ट्रॉफी (2017 Champions Trophy) की है. विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्‍तानी में भारतीय टीम (Indian Cricket Team) फाइनल में पहुंच गई थी. लेकिन उसके बाद ओवल के मैदान पर आज यानी 18 जून को जो कुछ भी हुआ, उसने हर भारतीय क्रिकेटप्रेमी को शर्मिंदा कर दिया.

दरअसल, भारत और पाकिस्‍तान की क्रिकेट टीमों के बीच आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का ये खिताबी मुकाबला खेला जा रहा था. कप्‍तान कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. मानो सबकुछ यहीं से गलत होता चला गया. पाकिस्‍तान की टीम ने 4 विकेट पर 338 रनों का विशालकाय स्‍कोर खड़ा कर दिया. टीम के लिए हर बल्‍लेबाज ने योगदान दिया. खासकर अजहर अली और फखर जमां ने पहले विकेट के लिए ही 22.5 ओवर में 128 रन जोड़कर टीम को ठोस शुरुआत दिलाई. अजहर 71 गेंदों पर 59 रन बनाकर आउट हुए. उन्‍होंने 6 चौके और 1 छक्‍का लगाया. जमां ने इसके बाद बाबर आजम के साथ पारी को आगे बढ़ाया. इस बीच फखर जमां ने अपना शतक पूरा किया. उन्‍होंने 106 गेंदों की पारी में 12 चौके और 3 छक्‍के लगाए. जमां ने 114 रन की शानदार पारी खेली. आजम भी 52 गेंदों पर 4 चौकों की मदद से 46 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. निचले क्रम पर मोहम्‍मद हफीज ने 37 गेंदों पर नाबाद 57 रन बनाए जिसमें 4 चौके और तीन छक्‍के लगे. इमाद वसीम ने 21 गेंदों पर 25 रन ठोके.

रोहित, विराट और शिखर को मोहम्‍मद आमिर ने किया चलता

लक्ष्‍य बेशक बड़ा था लेकिन भारतीय टीम में भी सितारा खिलाडि़यों की भरमार थी. ऐसे में उम्‍मीद की जा रही थी कि पाकिस्‍तान की मुश्किलें कम तो नहीं ही होंगी, लेकिन जब भारतीय पारी के 31वें ओवर की तीसरी गेंद मुकम्‍मल हुई तो उसके साथ ही टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी पवेलियन लौट गए. सिर्फ 158 रनों पर सिमटी भारतीय टीम ने ये मैच 180 रन के भारी अंतर से गंवाया. इसी के साथ आईसीसी टूर्नामेंट में उसे पाकिस्‍तान के हाथों पहली शिकस्‍त का सामना करना पड़ा. और ऐसा इसलिए हुआ क्‍योंकि तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आमिर ने रोहित शर्मा को शून्‍य, शिखर धवन को 21 और विराट कोहली को 5 रन पर पवेलियन भेज दिया था. इस सदमे से टीम अंत तक उबर नहीं सकी. युवराज सिंह 22, महेंद्र सिंह धोनी 4, केदार जाधव 9 और रवींद्र जडेजा 15 रन बनाने के बाद पवेलियन लौटे. हालांकि हार्दिक पंड्या ने अपने ताबड़तोड़ अर्धशतक से मुकाबले में जान फूंकने की कोशिश की, लेकिन वो भी सिर्फ टीम की हार का अंतर ही कम कर सके. पंड्या ने सिर्फ 43 गेंद की पारी में 4 चौके और 6 छक्‍कों की मदद से 76 रन ठोक डाले. पाकिस्‍तान के लिए मोहम्‍मद आमिर के अलावा हसन अली ने भी तीन विकेट चटकाए.

क्रिकेट इतिहास का सबसे महान मैच, मछली पकड़ने वाले ने ऑस्ट्रेलिया की सांसें फुला दीं मगर साथी की एक गलती ले डूबी, टूट गया दिल