Loading...

2019 विश्व कप के फाइनल में इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड के बीच खेला गया मुकाबला टाई हो गया था. इस मैच के टाई होने के बाद सुपरओवर भी टाई ओ गया था. सुपरओवर में दोनों ही टीमों ने 15-15 रन बनाए थे, लेकिन ज्यादा बाउंड्री लगाने के कारण इंग्लैंड की टीम को विजयी घोषित कर दिया गया.

सुपरओवरों के नियमों के कारण ही न्यूज़ीलैंड की टीम को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा, जिसके कारण कई दिग्गज सुपरओवरों के नियमों पर भड़कते हुए नज़र आए.

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर के अनुसार खिताब को दोनों देशों के बीच बांटा जाना चाहिए था, युवराज सिंह भी सुपरओवर के इस नियम की आलोचना करते हुए नज़र आ रहे हैं.

गौतम गंभीर और युवराज सिंह के साथ ही न्यूज़ीलैंड के पूर्व क्रिकेटर स्टीफेन फ्लेमिंग ने भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट से सुपरओवर के नियमों की आलोचना की है. वहीं न्यूज़ीलैंड के पूर्व क्रिकेटर स्कॉट स्टाइरिस ने आसीसी को एक मज़ाक बता डाला है.

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक ज़रूर करें, साथ ही आप अपने विचार हमें कमेंट करके बता सकते हैं. क्रिकेट से जुड़ी ऐसी ही दिलचस्प ख़बरों के लिए फॉलो का बटन दबाएं.

Loading...