Loading...

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भले ही 8 महीने से क्रिकेट से दूर हों बावजूद इसके वह सुर्खियों में बने रहते हैं. धोनी ने अपना अंतिम इंटरनेशल मैच पिछले साल वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था.

इसके बाद से माही ब्रेक के तहत टीम इंडिया से बाहर हैं. धोनी को साल के शुरुआत में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अपने सालाना कॉन्ट्रेक्ट से बाहर कर दिया था. इसके बाद अब बोर्ड ने धोनी को अपने सोशल अकाउंट इंस्टाग्राम पर अपलोड किए गए पोस्टर से भी बाहर कर दिया है जिसको लेकर कैप्टन कूल के फैंस भड़क गए हैं.

 

 

View this post on Instagram

 

A 13 Million strong family 🙏🙏 Thank you for your love and support 💙💙

A post shared by Team India (@indiancricketteam) on

जी हां.. बीसीसीआई ने एक और भारतीय क्रिकेट टीम से महेन्द्र सिंह धोनी को बाहर कर दिया है। ये टीम है भारतीय क्रिकेट के सोशल साइट्स इंस्टाग्राम ऑफिशियल से जहां बीसीसीआई ने जिन 9 खिलाड़ियों को शामिल किया है वहां पर महेन्द्र सिंह धोनी नदारद हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के नाम से बीसीसीआई के ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर 1.30 करोड़ यूजर्स हो चुके हैं। इस मौके पर उन्होंने अपने फैंस को धन्यवाद कहने के लिए एक स्पेशल इंस्टाग्राम पोस्ट डाली है। इसमें भारतीय क्रिकेट के 6 पुरुष और 3 महिला क्रिकेटर्स के फोटो डाले हैं। जिसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, जसप्रीत बुमराह और श्रेयस अय्यर को रखा है, तो वहीं महिला में स्मृति मंधाना, हरमनप्रीत कौर और पूनम यादव को रखा। लेकिन यहां धोनी नहीं दिखायी दिए। इसमें लिखा कि 13 मिलियन लोगों की मजबूत फैमिली। आपके प्यार और सपोर्ट के लिए शुक्रिया।

Also Read  हैप्पी बर्थडे धोनी: वो पांच मैच जिसमे धोनी के फ़ैसले ने डाल दी भारत की झोली में जीत

इसके बाद तो फैंस बीसीसीआई से नाराज हैं। और तरह-तरह के सवाल कर रहे हैं एक फैन ने लिखा ओए धोनी कहां हैं? तो वहीं एक अन्य फैन ने लिखा धोनी के बिना भारतीय टीम कुछ भी नहीं है।

आप को बता दे कि चेन्नई के लोगों के लिए थाला बने एमएस 2008 के ऑक्शन में सीएसके की पहली पसंद नहीं थे। टीम के मालिक एन श्रीनिवासन किसी और खिलाड़ी को खरीदना चाहते थे।

2008 में चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य चयनकर्ता के रूप में काम कर चुके चंद्रशेखर ने कहा था कि सीएसके के मालिक श्रीनिवासन की पहली पसंद महेंद्र सिंह धोनी नहीं थे। चंद्रशेखर ने कहा कि 2008 में नीलामी से पहले एन श्रीनिवासन ने मुझसे पूछा था कि आप किसे खरीदने जा रहे हैं? मैंने उनसे कहा धोनी को, उन्होंने पूछा, वीरेंद्र सहवाग क्यों नहीं? श्रीनिवासन की पहली पसंद विस्फोटक बल्लेबाज सहवाग थे।

चंद्रशेखर ने कहा कि मैंने धोनी की उपयोगिता के बारे में उन्हें बताया। कहा कि सहवाग मुझे उस स्तर की इंसपिरेशन नहीं देंगे, जबकि धोनी एक कप्तान, एक विकेटकीपर और एक बल्लेबाज हैं, जो अपने दम पर मैच को पलट सकते हैं। इसलिए मैंने उनसे पूछा कि हमें उन्हें खरीदना चाहिए? चंद्रशेखर ने बताया कि श्रीनिवासन का मन बदल गया और वह सुबह आकर बोले कि मुझसे धोनी को खरीदना हैं, लेकिन हमें डर था कि कहीं दूसरी कोई फ्रेंचाइजी हमसे अधिक खर्च करके धोनी को अपनी टीम में शामिल न कर ले।

Loading...