Loading...

हेल्लो दोस्तों हमारे चैनल में आपका स्वागत है . दोस्तों हम रोज आपके लिए ऐसी स्पोर्ट्स से जुड़ी न्यूज़ लेकर आते रहते हैं इसलिए अगर अभी तक आपने हमारे चैनल को फॉलो नहीं किया है तो ऊपर दिख रहे पीले कलर के बटन को दबाकर हमें फॉलो करें .

इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड के बीच खेले गये आईसीसी विश्व कप के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने न्यूज़ीलैंड को हराकर पहली बार विश्व कप पर कब्ज़ा जमाया . बता दें की पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूज़ीलैंड की टीम ने 50 ओवरों में 8 विकेट पर 241 रन बनाई . न्यूज़ीलैंड की ओर से हेनरी निकोलस ने 55 रनों की पारी खेली . जबकि कप्तान केन विलियमसन ने 30 रनों की पारी खेली . वहीँ टॉम लेथम ने 47 रनों की पारी खेली . जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम भी 50 ओवरों में 241 रनों पर ऑल आउट हो गई . इंग्लैंड की ओर से जॉनी बेयरस्टो ने 36 रनों की पारी खेली . जबकि बेन स्टोक्स ने नाबाद 84 रनों की पारी खेली . वहीँ जोस बटलर ने 59 रनों की पारी खेली .

बता दें की इसके बाद सुपर ओवर खेला गया . सुपर ओवर में पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की टीम ने 15 रन बनाई . जवाब में न्यूज़ीलैंड की टीम भी 15 रन ही बना पाई . जिसके बाद इंग्लैंड को मैच में ज्यादा चौके लगाने आधार पर विजेता घोषित कर दिया गया . बता दें की सुपर ओअव्र में इंग्लैंड की ओर से गेंदबाजी करने जोफ्रा आर्चर आये थे .

मैच के बाद जोफ्रा आर्चर ने कहा की मुझे बहुत यकीन था कि मैं इसे गेंदबाजी करने जाने वाला हूँ . बस मॉर्गन के साथ डबल-चेक किया . फिर भी दिल की धड़कन तेज थी . संभवतः ये मेरे जीवन की सबसे बड़ी बात हो . इस टूर्नामेंट में शुरू से ही लोगों ने जिस तरह से जीत हासिल की, वह निराशाजनक रहा होगा . वे मेरे लिए एक परिवार रहे हैं .

दोस्तों अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक और फॉलो जरुर करें .

Loading...