Loading...

शिखर धवन के चोटिल होने के बाद उनकी जगह पर केएल राहुल को विश्व कप में सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाने के लिए चुना गया था। केएल राहुल ने इस विश्व कप में 9 मैच खेले और 9 पारियों में 361 रन बनाए। इसी बीच राहुल ने 1 शानदार शतक और 2 अर्धशतक भी लगाए। केएल राहुल की बल्लेबाजी पर काफी लोग नाराजगी व्यक्त कर रहे है और वह चाहते है कि राहुल को इतने मौके नहीं मिलने चाहिए।

अभी अगस्त में भारतीय टीम वेस्टइंडीज का दौरा करने वाली है। इस दौरे पर अगर शिखर धवन फिट नहीं हुए, तो क्या राहुल को मौका मिलना चाहिए? अब तक राहुल ने 23 मैच खेले है और चलिए हम 23 मैचों के बाद राहुल और धवन के आंकड़ों पर नजर डालते है।

केएल राहुल का वनडे करियर

केएल राहुल ने अब तक वनडे में 23 मैच खेले है और 22 पारियों में बल्लेबाजी की है। इसी दौरान राहुल ने 39.11 की औसत से और 79.10 के स्ट्राइक रेट से 704 रन बनाए है। केएल राहुल ने 2 शतक और 4 अर्धशतक भी लगाए है। उनका सर्वोच्च स्कोर 111 रनों का रहा है। शिखर धवन की उपस्थिति में केएल राहुल ज़्यादातर सलामी बल्लेबाज की भूमिका नहीं निभाते है। इसलिए शायद उनके आंकड़े उतने बेहतर नहीं है।

पहले 23 मैचों के बाद शिखर धवन के आंकड़े

शिखर धवन ने अपने करियर के शुरुआती 23 मैचों की 23 पारियों में बल्लेबाजी की थी और 900 रन बनाए थे। धवन का औसत 42.85 का रहा था और स्ट्राइक रेट 90.18 का था। शिखर धवन ने इसी बीच 3 शतक और 4 अर्धशतक लगाए थे। उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 116 रनों का रहा था। शिखर धवन हमेशा सलामी बल्लेबाज के रूप में ही खेलते है।

आपके अनुसार दोनों में से कौन बेहतर बल्लेबाज है? कमेंट करके हमें ज़रूर बताए।

Loading...