कुलदीप यादव ने रचा इतिहास, भारत के लिए दो हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज बने

टीम इंडिया और मेहमान वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के बीच विशाखापट्टनम में खेला गया दूसरा वनडे मैच हर मायने में ऐतिहासिक साबित हुआ है। खासतौर पर टीम इंडिया के लिए। भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाजों ने ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए 387 रनों का स्कोर तो खड़ा किया ही लेकिन जब गेंदबाजी की बारी आई तब भी कुछ खास कमाल देखने को मिला। वेस्टइंडीज धुआंधार बल्लेबाजी कर रहा था, तभी अचानक मोहम्मद शमी और कुलदीप यादव ने पूरा खेल बदल दिया था। इनमें से मौके दोनों को मिले लेकिन कुलदीप ने इतिहास रच दिया है।

पहले शमी की बारी आई

जब निकोलस पूरन और शाई होप बड़ी साझेदारी को अंजाम दे रहे थे, तब मोहम्मद शमी ने 30 वें ओवर में अपना कमाल दिखाया और दो लगातार गेंदों पर दो विकेट ले लिए। उन्होंने पहले प्राण को कुलदीप के हाथों कैच बनाया और फिर अगले गेंद पर कप्तान कीरोन पोलार्ड (0) को रिषभ पंत के हाथों कैच करा दिया। मोहम्मद शमी इसी साल विश्व कप में अफगानिस्तान के खिलाफ हैट्रिक ले चुके थे, अगर वो तीसरे गेंद पर विकेट ले लेते तो वो एक साल में दो हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बन जाते लेकिन बुधवार को तीसरे गेंद पर वो चूक गए।

कुलदीप ने पूरा किया सपना

मोहम्मद शमी तो ये कम कर नहीं पाए लेकिन कुछ ही ओवर के बाद कुलदीप यादव ने ये इतिहास रच दिखाया। कुलदीप ने 33 वें ओवर की चौथी गेंद, पांचवीं और छठी गेंद पर तीन बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया। इसके साथ ही वे आंतरिक क्रिकेट में भारत की तरफ से दो हैट्रिक लेने वाले पहले खिलाड़ी बन गए। कुलदीप यादव ने इससे पहले 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता में भी हैट्रिक ली थी। वनडे क्रिकेट में ये भारत की तरफ से पांचवीं हैट्रिक है। कुलदीप यादव ने दो हैट्रिक ली है, जबकि चेतन शर्मा, कपिल देव और मोहम्मद शमी ने 1-1 है।

ऐसी रही कुलदीप की हैट्रिक

पहला विकेट- शाई होप (78) को विराट कोहली के हाथों बाउंड्री पर शानदार कैच के जरिए आउट किए गए।

दूसरा विकेट- जेसन होल्डर (11) को रिषभ पंत के हाथों स्टंप कराया गया।

तीसरा विकेट- अल्जारी जोसेफ (0) को केदार जाधव के हाथों कैच बना दिया।

कुलदीप यादव हैट्रिक

वनडे क्रिकेट में मोस्ट हैट्रिक लेने वाले गेंदबाज

लसिथ मलिंगा- 3

वसीम अकरम- २

सकल्पन मुश्ताक- २

चमिंडा वास- 2,

ट्रेंट बोल्ट- 2

कुलदीप यादव- 2 *