इस वजह से कुलदीप-चहल को एक साथ प्लेइंग इलेवन में नहीं मिल रहा है मौका

विश्व कप 2019 के बाद, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को एक साथ भारतीय टीम में खेलने का मौका नहीं मिल रहा है। कुलदीप और चहल की जोड़ी ने काफी समय तक भारतीय टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है। लेकिन मौजूदा समय में कुलदीप-चहल को एक साथ एकादश खेलने का मौका नहीं मिल रहा है। जिसके कारण भारतीय टीम कई टी 20 वनडे और एकदिवसीय मैचों में हार गई है। क्योंकि भारतीय स्पिन गेंदबाजी बीच के ओवरों में कमजोर दिख रही है।

कई क्रिकेट विशेषज्ञों और पूर्व क्रिकेटरों ने इस बात को लेकर आश्चर्य जताया है कि जब कुलदीप और चहल एक साथ शानदार खेलते हैं तो फिर उन्हें एक साथ प्लेइंग इलेवन में मौका क्यों नहीं दिया जा रहा है। लेकिन अब एक बड़ा कारण सामने आया है।

इस वजह से कुलदीप और चहल को एक साथ खेलने का मौका नहीं मिलता

विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड की हार के बाद भारतीय टीम प्रबंधन ने अपनी रणनीति में कुछ बदलाव किए हैं। भारतीय टीम प्रबंधन का मानना ​​है कि 7, 8 और 9 नंबर खेलने वाले खिलाड़ी भी बल्लेबाजी कर सकते हैं। इसलिए कुलदीप और चहल को एक साथ एकादश खेलने का मौका नहीं मिलता है। क्योंकि दोनों ही गेंदबाजी करने के लिए जाने जाते हैं। इसलिए उन्हें एक साथ XI खेलने का मौका नहीं मिलता है।

कौन सी स्पिन जोड़ी भारतीय टीम के लिए सबसे कारगर साबित हो सकती है।

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल

कुलदीप यादव रवींद्र जडेजा

रवींद्र जडेजा और युजवेंद्र चहल