Loading...

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में इंग्लैंड को चैंपियन बनाने वाले ऑलराउंडर बेन स्टोक्स बेहद दुखी हैं. दरअसल न्यूजीलैंड के खिलाफ फाइनल मैच में उनसे एक ऐसी अनचाही गलती हुई, जिसका पछतावा उन्हें जिंदगी भर रहेगा. इस बात का खुलासा खुद बेन स्टोक्स ने वर्ल्ड कप जीतने के बाद किया. दरअसल बेन स्टोक्स जब आखिरी ओवर में रन दौड़ रहे थे तो मार्टिन गप्टिल का एक थ्रो उनके बैट पर जा लगा और गेंद बाउंड्री लाइन के पार चली गई. इस वजह से अंपायर ने इंग्लैंड को 6 रन दे दिए, जिसके बाद इंग्लैंड मैच टाई कराने में कामयाब रहा. मैच टाई होने के बाद सुपरओवर खेला गया, उसमें भी न्यूजीलैंड और इंग्लैंड का मैच टाई खत्म हुआ और आखिर में ज्यादा बाउंड्री लगाने की वजह से इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया गया.

Also Read – हार के बाद भी मिलेंगे विश्वकप में भारतीय टीम को इतने करोड़ रूपये!

स्टोक्स को पछतावा

इंग्लैंड शायद ही वो मैच टाई करा पाता अगर बेन स्टोक्स के बल्ले पर गेंद नहीं लगती और इंग्लैंड को 4 ओवर थ्रो के रन नहीं मिलते. खैर जब स्टोक्स से इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ‘मैंने केन विलियमसन से कहा कि मैं जिंदगी भर इस चीज के लिए माफी मांगता रहूंगा.’

अंपायरों से हुई गलती

आपको बता दें जिन ओवर थ्रो के 4 रनों की वजह से इंग्लैंड वर्ल्ड कप जीता उसपर विवाद खड़ा हो गया है. पांच बार बेस्ट अंपायर रह चुके साइमन टॉफेल के मुताबिक फाइनल में अंपायर धर्मसेना से बड़ी गलती हुई. एमसीसी की नियम बनाने वाले उपसमिति के सदस्य टॉफेल ने कहा कि इंग्लैंड को पांच रन की जगह छह रन देना साफ तौर पर अंपायरों की गलती थी.

Also Read – World Cup 2019 : अंपायर भी नही कर पाये सही धर्म का पालन, प्रशंसको ने किया ट्रोल

इसे लेकर एमसीसी की रूलबुक में जो नियम 19.8 है उसके अनुसार, ऐसी स्थिति में बल्लेबाजों द्वारा पूरा किया गया रन और ओवरथ्रो पर मिली बाउंड्री से मिले रन तभी मान्य हैं जब फील्डर के थ्रो फेंकने से पहले दोनों बल्लेबाजों ने पिच पर एक-दूसरे को क्रॉस कर लिया हो, जबकि इस मुकाबले में ऐसा नहीं हुआ था.

Loading...