Loading...

हर क्रिकेटर का सपना होता है कि वह अपने देश की राष्ट्रीय टीम का हिस्सा बने और अपने देश का प्रतिनिधित्व करे, लेकिन सभी का यह सपना पूरा नही हो पाता है, आज हम एक ऐसे की क्रिकेटर के बारे में बात करने वाले हैं, जिसने U-16 और U-19 में भारत की ओर से अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन भारतीय सीनियर टीम में जगह नही मिली तो उसने दूसरा रास्ता निकाल लिया।

हम जिस क्रिकेटर की बात कर रहे है, उसका नाम है सौरभ नेत्रावलकर, सौरभ ने अंडर-16 और अंडर-19 में भारतीय टीम की ओर से काफी शानदार प्रदर्शन किया था, सौरभ ने अंडर-19 विश्वकप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी थे, इसके बावजूद उनके भारत की सीनियर टीम में जगह नही मिली।

लेकिन सौरभ इससे निराश नही हुए और अमेरिका चले गये, सौरभ ने वहां पर घरेलू स्तर पर शानदार खेल दिखाया और आज वो अमेरिका की राष्ट्रीय टीम के कप्तान बन चुके हैं, हम आपको बता दें कि सौरभ काफी शांत मिजाज के खिलाड़ी हैं, इसलिए अमेरिका में उन्हें धोनी की तरह कैप्टन कूल कहा जाता है।

Loading...